सामान्य ज्ञान: तथ्यों का सार संग्रह

2
137

 

सामान्य ज्ञान तथ्यों का सार संग्रह 

सामान्य ज्ञान तथ्यों का सार संग्रह का तात्पर्य यह है दोस्तों,

कि इस संसार का कोई भी प्राणी क्यों न हो बिना ज्ञान के उसका जीवन,

उस काल कोठरी के समान होता है जो कोयले से ज्यादा बाहर से काली होने के बाद भी,

अंदर के अज्ञान से कम काली होती है।

कम शब्दों में कहें तो किसी भी मनुष्य का काम

अपने भूत भविष्य वर्तमान के ज्ञान के बिना नहीं चल सकता।

तो आइए अपने अपने ज्ञान की ज्योति जलाने का प्रयास करते हैं कुछ इस तरह। 

भारतीय इतिहास एवं संस्कृति 

🔵राजा को मंदिर का धन जब्त कर लेना चाहिए यह कौटिल्य का कथन है।

🔵पुष्य भूति वर्धन थानेश्वर के वर्धन वंश का संस्थापक था। 

🔵ताम्र लिप्ति बंदरगाह से प्राचीन काल में जावा, सुमात्रा चीन आदि से व्यापार होता था।

🔵भारत छोड़ो आंदोलन के पूर्व ही अंग्रेज़ों                  ने गांधी जी व अन्य नेताओं को गिरफ्तार करने        के लिए “आपरेशन जीरो आवर” नामक                 योजना बनाया था। 

🔵सक संवत मनाया जाता है 78 AD से। 

🔵महाराजाधिराज की उपाधि धारण करने वाला      प्रथम गुप्त शासक चंद्र गुप्त प्रथम है। 

🔵भारत अरब नहीं है इसे दारुल इस्लाम में                   बदलना व्यावहारिक रूप से संभव नहीं।

      यह इल्तुतमिश ने कहा था। 

🔵सल्तनत काल में मंत्री की नियुक्ति तथा बर्खास्तगी सुल्तान करता था। 

🔵खजाइन उल फुतुह अमीर खुसरो की वह किताब है जिसमें अलाउद्दीन की सैन्य विजयों का वर्णन है। 

🔵औरंगजेब ने वसीयत लिखकर असद खां को वजीर बनाने की सिफारिश की थी। 

🔵विजय नगर साम्राज्य की स्वर्ण मुद्राओं में भगवान् वेंकटेश्वर की मूर्ति का अंकन हुआ था। 

🔵712 में सिन्ध के राजा दाहिर को मुहम्मद बिन कासिम ने परास्त किया था। 

राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन 

🔵भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना 28 दिसंबर 1885 को हुई थी।

🔵1875 में थियेसोफिकल सोसाइटी की स्थापना मैडम ब्लेवेटस्की व कर्नल आलकाट ने की थी।

🔵आर्कटिक होम इन द वेदाज बाल गंगाधर तिलक की रचना है। 

🔵सविनय अवज्ञा आंदोलन के नेता गांधी जी थे। 

🔵फैजपुर कांग्रेस अधिवेशन में भूमि संबंधी 13 बिंदु वाला कार्यक्रम बनाया गया था। 

🔵लाला लाज राय की मृत्यु पर गांधी जी ने कहा था कि भारत सौर मंडल का एक सितारा बुझ गया है। 

🔵स्वाधीनता हमारा लक्ष्य है और हिनदुत्व ही हमारी आकांक्षा पूरी कर सकता है। 

🔵कांग्रेस सम्मेलनों को शिक्षित भारतीयों का वार्षिक मेला लाला लाजपत राय ने कहा था। 

🔵जबलपुर मध्य प्रदेश स्थित त्रिपुरी में 1939 में सुभाषचंद्र बोस अध्यक्ष बने थे। 

🔵लंदन में इंडिया हाउस की स्थापना 1905 में श्याम जी कृष्ण वर्मा ने की थी। 

धन्यवाद

KPSINGH 19052018

 

 

 

 

🔵🔵🔵🔵🔵

 

 

 

 

 

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here