भारत हथियारों का सबसे बड़ा खरीदार

3
30

 

भारत हथियारों का   सबसे बड़ा खरीदार 

आज भारत हथियारों का सबसे बड़ा खरीदार है।दोस्तों यह बात

मैं नहीं कहता बल्कि यह हकीकत, 

स्वीडन में  स्थित

थिंक टैंक स्टाक होम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट SIPRIकी वर्ष 2018 की

वार्षिक रिपोर्ट कहती है।

सीपरी की रिपोर्ट के मुताबिक भारत विश्व मेंआज सबसे ज्यादा हथियारों का आयातक देश है।

पूरी दुनिया में जो भी हथियार खरीदे जातेेहैं किसी  एक देश द्वारा,

इस लिहाज से आज भारत में सबसे ज्यादा हथि- यार खरीदे जाते हैं।

जबकि हथियारों का सबसे बड़ा निर्यातक यानी बेचनें वाला देश अमेरिका है।

पूरी दुनिया में किसी एक देश द्वारा एक साल में जो भी हथ बेचे जाते हैं,

उनमें सबसे ज्यादा हथियार बेचने वाला देश अमेरिका है। 

क्या कहती है सीपरी 

सीपरी की मार्च 2018 में जारी रिपोर्ट में कहा गया है  कि वर्ष 2008 से 2012 की तुलना में

2013 से 2017 के बीच की पांच वर्षों की अवधि में,

भारत के हथियारों के आयात में जहां 24%की वृद्धि हुई है,

वहीं उसके पड़ोसी देशों में चीन के हथियारों का आयात इसी अवधि में 19%तथा

पाकिस्तानी हथियारों के आयात में 36%की कमी दर्ज की गई है। 

पांच बड़े आयातक देश 

सीपरी की रिपोर्ट के मुताबिक 2013 से 2017 के बीच पांच वर्षों की अवधि में,

विश्व में हथियारों के पांच बड़े आयातक देश

क्रमशः  भारत, सउदी अरब, मिस्र, संयुक्त अरब अमीरात और चीन बन कर उभरे हैं।

जबकि सबसे ज्यादा आतंकी गतिविधि प्रेमी पाकिस्तान का स्थान इस लिस्ट में 9वां रहा है। 

पांच बड़े निर्यातक देश 

सीपरी के अनुसार इसी पांच वर्ष की अबधि में

दुनिया को सबसे ज्यादा हथियार बेचने वाले या हथियारों के निर्यातक देश के रूप में,

अपनी  पहचान बनाने वाले निर्यातक देशों में

क्रमशः अमेरिका, रूस, फ्रांस, जर्मनी और चीन का नाम प्रमुख हैं 

सीपरी के अनुसार 

🔴सीपरी के अनुसार 2013/2017 की अवधि

के दौरान हथियारों का सबसे बड़ा आयातक देश भारत रहा।

🔴इस अवधि में कुल वैश्विक आयात का 12%आ -यात  भारत ने किया है।

🔴इस मामले में दूसरा, तीसरा, चौथा और पांचवें

देश के  रूप में  क्रमशः  सउदी  अरब, मिस्र, यूएई और चीन सामने आए हैं।

🔴इस अवधि में भारत को जिन देशों ने सबसे

ज्यादा हथियारों की बिक्री की इनमें प्रमुख रहे हैं : रूस, अमेरिका, इजराइल।

🔴इनमें  भारत की कुल आपूर्ति का 68% रूस

के  द्वारा 15% अमेरिका और 11% की आपूर्ति     इजराइल के द्वारा की गई है।

🔴इस अवधि में कुल वैश्विक आयात में चीन का हिस्सा 4%रहा है।

🔴इस अवधि में चीन को हथियारों की आपूर्ति

करने वालों में प्रमुख रहे हैं रूस 65%,फ्रांस 14%और यूक्रेन 8.4%।

🔴पाकिस्तान इस अवधि में हथियारों की आपूर्ति  में 9वें स्थान पर रहा है।

इसने कुल वैश्विक आपूर्ति का 2.8 प्रतिशतआपूर्ति की है।

🔴इसे हथियारों की आपूर्ति करने वाले देशों में प्रमुख हैं चीन 70%,अमेरिका 12%,रूस21%।

अन्य तथ्य 

🔴सबसे बडे़ हथियारों के निर्यातक देश अमेरिका

ने भी इसी अवधि में कुल वैश्विक आयात का 2% हथियार  आयात किया।

🔴अमेरिका आयातक देशों में 14वें स्थान पर रहा।

अमरीका को उसके कुल आयात का 22%जर्मनी ने उपलब्ध कराया।

12%नीदरलैंड, और 12%ही अमेरिका को फ्रांस ने हथियार उपलब्ध कराए हैं।

🔴पांच वर्षों की अवधि में कुल वैश्विक निर्यात में

34%योगदान अमेरिका का रहा है। 22%रूस का तो 6.7%फ्रांस का योगदान रहा है।

🔴अमेरिका ने सबसे ज्यादा18% हथियारों का निर्यात सउदी अरब को किया है।

🔴दूसरे स्थान पर यूएई रहा जिसे7. 4%हथियार

अमेरिका से मिले और तीसरे स्थान पर आस्ट्रेलि या रहा 6. 7%हथियार हथिया कर। 

दस बडे़ आयात देश

🔴भारती

🔴सउदी अरब 

🔴मिस्र 

🔴संयुक्त अरब अमीरात 

🔴चीन 

🔴आस्ट्रेलिया 

🔴अल्जीरिया 

🔴ईराक 

🔴पाकिस्तान 

🔴इंडोनेशिया। 

दस सबसे बड़े निर्यात क देश

🔴अमेरिका 

🔴रूस 

🔴फ्रांस 

🔴जर्मनी 

🔴चीन 

🔴ब्रिटेन 

🔴स्पेन 

🔴इजराइल 

🔴इटली 

🔴नीदरलैंड 

 

धन्यवाद

KPSINGH 21052018

 

 

 

 

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here