अहमदाबाद :भारत का पहला विश्व धरोहर नगर

3
55

अहमदाबाद :भारत का पहला विश्व धरोहर नगर

अहमदाबाद :भारत का पहला विश्व धरोहर नगर

अहमदाबाद,भारत का प्रथम विश्व धरोहर नगर है।

यह निर्णय विश्व धरोहर समिति की 41 वीं बैठक में लिया गया था ।

आपको बता दें कि विश्व धरोहर नगर का मतलब यह होता है ,

किसी नगर का स्थापत्य, नगर नियोजन, सांस्कृतिक वैभव इतने उत्कृष्ट रहे हैं कि

आज ही नहीं इनका आगे भी बरकरार रहना जरूरी है ।

अतः ऐसे नगरों को संरक्षण और संवर्धन की जरूरत होती है ।

यह कार्य विश्व की सबसे उत्कृष्ट संस्था यूनेस्को द्वारा किया जाता है । 

किसने लिया यह निर्णय?

भारत के अहमदाबाद शहर को विश्व धरोहर नगर बनाने का निर्णय किसी और का नहीं यूनेस्को की विश्व धरोहर समिति का है ।

यह निर्णय विश्व धरोहर समिति की 41 वीं बैठक में लिया गया जो 2 से 12 जुलाई 2017 में मध्य क्राकाव पोलैंड में सम्पन्न हुई थी ।

इस बैठक में विश्व के कुल 21 नए स्थलों को विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया था ,

जिसमे भारत का नगर अहमदाबाद भी शामिल है ।

ध्यान रहे इस सूची में 18 सांस्कृतिक स्थल तथा 3 प्राकृतिक स्थल हैं ।

जानने योग्य तथ्य यह है कि इन 21 स्थलों को शामिल करने के बाद ,

विश्व के 167 देशो के विश्व धरोहर स्थलों की कुल संख्या 1073 हो गई है ।

इनमें 832 सांस्कृतिक तथा 206 प्राकृतिक व 35 मिश्रित स्थल हैं ।

अहमदाबाद के बहाने

गुजरात का ऐतिहासिक नगर अहमदाबाद विश्व धरोहर सूची में स्थान बनाने वाला भारत का प्रथम नगर है ।

इससे पूर्व भारत के कुल 35 स्थल शामिल किए जा चुके हैं इस सूची में  ।

इनमें स्मारक, उद्यान आदि शामिल हैं ।

यह पहला मौका है जब इस सूची में किसी भारतीय नगर को शामिल किया गया है ।

अहमदाबाद को लेकर अब तक इस सूची में कुल 36 स्थल शामिल हो चुके हैं जो भारत के हैं ।

इन 36 स्थलों में 28 सांस्कृतिक श्रेणी के हैं ।

7 प्राकृतिक श्रेणी के हैं ।

1 स्थल मिश्रित श्रेणी का है ।

अहमदाबाद को सांस्कृतिक श्रेणी में स्थान मिला है ।

ध्यान देने योग्य बात यह भी है कि एशिया प्रशांत क्षेत्र में सर्वाधिक 52 स्थल चीन के हैं ,

तथा दूसरा स्थान भारत का है जिसके कुल 36 स्थल हैं ।

ऐतिहासिक शहर अहमदाबाद

अहमदाबाद  के किले बंद शहर को सुल्तान अहमद ने ,

15 वी सदी में साबरमती के पूर्वी तट पर बसाया था ।

यह शहर वास्तुकला का उत्कृष्ट नजारा पेश करता है ।

आपको बता दें कि यहां 28 ऐसे स्मारक हैं जिन्हें भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा संरक्षित किया जाता है ।

अहमदाबाद की प्रमुख धरोहरों में,

अहमद शाह द्वारा 1423 में  निर्मित जामा मस्जिद है ।

1572 की सीढी सैय्यद मस्जिद,

1451 की ऐबक द्वारा निर्मित कां करिया झील,

 यहां सफेद संगमरमर से बना जैन मंदिर बेहद उल्लेखनीय हैं ।

कुछ विदेशी खास स्थल

विश्व धरोहर सूची में कुछ विदेशी स्थल भी बेहद अहम हैं,

जो अहमदाबाद के साथ ही शामिल हुए हैं जैसे:

●दक्षिणी जर्मनी की “स्वाबियन जुरा गुफाएं ।

●असमारा अफ्रीका का आधुनिक शहर ●वेनिस का सुरक्षा तंत्र

●ओके नो सुमा स्थल जापान।

●कुलांग सू द्वीप चीन

●विश्व का सबसे ऊंचा पठार ,चीन ।

 

धन्यवाद

लेखक :

के पी सिंह “किर्तीखेड़ा”

07032018 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here